There Are Many Voices Beside Ours

Author
Ella Cara Deloria
21 words, 14K views, 31 comments

Image of the Weekअन्य कई आवाजें हैं, हमारे अलावा , द्वारा एला कारा देलोरिया

हम, ( मूल निवासी अमरिकियों) को मौन/ शांति के बारे में पता है | हम उससे भयभीत नहीं होते हैं| वस्तुतः , हमारे लिए मौन, शब्दों से अधिक शक्तिशाली है| हमारे बुजुर्गों को मौन/ शांति के प्रकार के बारे में शिक्षा मिली थी और उन्होंने ही वो ज्ञान हमें दिया है | पहले अवलोकन करें, फिर ध्यान से सुनें, उसके पश्चात ही कार्य करें, ये वो हमें बताते थे | उनके जीवन को जीने का ये ही तरीका था |

आप में से ज्यादा तर लोगों के साथ इसका उल्टा है | आप बातें करके ज्ञान हासिल करते हैं|जो बच्चा स्कूल मे सबसे ज्यादा बातें करता है उसे आप इनाम देते हैं| आपके उत्सवों ( Parties) में आप सब एक साथ ही बातें करने की कोशिश करते हैं| आपके कार्यस्थल में आप यहाँ के हर दम मीटिंग्स होती रहती हैं जिनमे सब कोई एक दुसरे को बीच में टोकता रहता है, और सभी तक़रीबन पांच , दस या सौ दफे तक बातें करते हैं| और आप उसे समस्या के समाधान का तरीका कहते हैं| आप अगर एक कमरे में हैं और उसमे मौन/शांति है , तो आप घबरा जाते हैं| आपको उस जगह को आवाजों से भर देना है | अतः आप अनिवार्यता से बातें करते रहते हैं, यह जानने से भी पहले , कि आप क्या बोलने वाले हैं |

(आधुनिक) ज़माने के लोग तर्क वितर्क करना जानते हैं| वो दुसरे व्यक्तियों को अपना वाक्य भी पूरा नहीं करने देते| वे हरदम टोक देते हैं| हम निवासी अमरीकियों के लिए ये सभ्य व्यवहार नहीं माना जाता बल्कि बेवकूफी मानी जाती है | अगर आप बात करना शुरू करते हैं तो मैं आपको बीच में नहीं काटूँगा| में सिर्फ सुनूंगा | अगर मुझे आपका कहा पसंद नहीं है , तो मैं आपको ध्यान से सुनना बंद कर दूंगा लेकिन आपको टोकूंगा नहीं| जब आपकी बात ख़त्म हो जाएगी, तब मैं अपने मन में विचार करूंगा जो आपने कहा है , और मैं, अगर बहुत जरूरी नहीं हो तो , यह भी आपको नहीं कहूँगा कि मैं आपसे सहमत नहीं हूँ| अन्यथा , मैं सिर्फ चुप रहूँगा और मैं चला जाऊँगा |

आपने मुझे बता दिया है जो मुझे जानने की जरूरत थी| अब कुछ कहने को बचा नहीं है |पर शायद अधिकांश आधुनिक व्यक्तियों के लिए ये पर्याप्त नहीं है |

व्यक्तियों को अपने शब्दों को बीज के रूप में आदर करना चाहिए | वे उन्हें रोप दें, और उन्हें मौन/शांति में अंकुरित होने दें| हमारे बुजुर्गों ने बताया कि धरती हमसे हमेशा वार्ता करती रहती है, पर उसे सुनने ले लिए हमें शांत/मौन रहना होगा |

अन्य कई स्वर हैं, हमारे अलावा| कई आवाजें |

मनन के लिए मूल प्रश्न : आप इस धारणा से कैसा नाता रखते हैं, कि अन्य कई स्वर हैं, हमारे अलावा ? क्या आप उस समय की एक कहानी साझा कर सकते हैं जब आप मौन/शांत थे, और आपने धरती को बातें करते सुना हो? आपको अपने शब्दों को मौन/शांति में अंकुरित होने में किस चीज़ से सहायता मिलती है|
 

Ella Cara Deloria, also called Aŋpétu Wašté Wiŋ, was a Yankton Dakota educator, anthropologist, ethnographer, linguist, and novelist. She recorded Native American oral history and contributed to the study of Native American languages.


Add Your Reflection

31 Past Reflections