Fishing Before You Know How To Fish

Author
Courtney Martin
36 words, 18K views, 16 comments

Image of the Weekमछली पकड़ने से पहले आप जानते हैं कि कैसे मछली को पकड़ना है

-कोर्टनी मार्टिन द्वारा


देवदार और मेपल के पेड़ के पार से मैं उसे सुनता हूं।
अगर मुझे मछली पकड़ना नहीं आता तो मुझे मछली पकड़ने नहीं जाना चाहिए था।
अगर मुझे मछली पकड़ना नहीं आता तो मुझे मछली पकड़ने नहीं जाना चाहिए था।
वहाँ खड़ी है वह
पैर अविश्वसनीय रूप से लंबे
गुलाबी और काले गोल गोल बिंदु (पोल्का डॉट) छपे हुए ढीले ढाले तैराकी पोशाक में,
उसके हाथ में छड़ (मछली पकड़ने का साधन, बंसी)
और थोड़े से अंडाकार में सूर्यमछली (सनफिश) उसके काँटे पर अविश्वसनीय रूप से।
मैं उसे बताता नहीं, लेकिन मुझे लगता है
ओह, प्यारी लड़की, जीवन हमेशा ऐसा ही होता है।
मछली पकड़ने से पहले आप जानते हैं कि कैसे मछली पकड़ना है।
छोड़ने से पहले आप जानते हैं कि कैसे छोड़ना है।
बोलने से पहले आप बोलना जानते हैं।
लड़ने से पहले आप जानते हैं कि कैसे लड़ना है।
प्यार करने से पहले आप जानते हैं कि कैसे प्यार करना है।
मरने से पहले आप जानते हैं कि कैसे मरना है।
हम सब उस छड़ वाले बच्चे हैं
जो इस बात की चिंता कर रहे हैं कि हमने किसी को चोट तो नहीं पहुंचाई है।
और हम सब काँटे पर लगी मछलियाँ भी हैं,
करुणा की आशा में।
उसकी बुआ उसकी बुदबुदाती प्रार्थना सुनती है
और हालांकि उसने 30 वर्षों में एक भी मछली को काँटे से निकाला नहीं है
कसमसाती मासूम को अपने हाथों में पकड़ लेती है
और गाल में धंसी धातु को निकाल देती है।
और यह भी हम सभी करते हैं।
बार-बार प्रार्थना के द्वारा बचाए गए हम, और हमें पता ही नहीं था कि हम ही प्रार्थना कर रहे हैं
और एक साक्षी जिसे हमने भुला दिया, सुन रहा था।

मनन के लिए मूल प्रश्न: आप इस धारणा से कैसे संबंधित हैं कि जीवन कभी-कभी हमें उस स्थान पर ले आता है जहां हमारी निपुणता अपर्याप्त होती है? क्या आप एक व्यक्तिगत कहानी साझा कर सकते हैं जब प्रार्थना ने आप की सहायता की हो, और आप जानते ही नहीं थे कि वो प्रार्थना आप ही कर रहे थे और एक साक्षी जिसे आप भूल गए थे वह सुन रहा था? निपुणता की कमी होने पर, अज्ञात का सहारा लेने में आपको क्या मदद करता है।
 

Courtney Martin is an author, speaker and mom. She wrote the poem above for her daughter, Megan.


Add Your Reflection

16 Past Reflections