Big Enough to Take It All In

Author
Margaret Wheatley
27 words, 19K views, 7 comments

Image of the Weekसब कुछ अंदर समाने के लिए पर्याप्त
मार्गरेट व्हीटली द्वारा (5 जून, 2017)

स्पष्ट रूप से देखने की चाहत निडरता का असली काम है। अपने ह्रदय और मस्तिष्क को खोलने के लिये, इस पल में ज़िन्दगी जो हमें प्रदान कर रही है उसे ग्रहण करने के लिए, जबरदस्त साहस और दृढ़ता की ज़रूरत होती है।

इस सादगी में हम सामना करेंगे उन जानकारियों का जिन्हें हम खुद से दूर धकेलते हैं, उन सन्देशों को जिन्हें हम नहीं सुनते, उन विचारों को जिन्हें हमने अस्वीकार कर दिया था, उन लोगों को जिन्हें हम नहीं देखना चाहते।

हमारी सादगी मर्मज्ञ भावनाएं- दुख, शोक, प्रेम, करुणा को भी आमंत्रित करती है।

हम अपने सामान्य तरीकों से स्पष्ट देखने के लिए जगह नहीं बनाते हैं। केवल वर्तमान को साक्षी भाव से देखते हैं- कोई सवाल नहीं, कोई विश्लेषण नहीं, कोई भेद नहीं। जितना कम हम चीज़ों को सुल्झाने की, परखने की, वर्गीकृत या फ़र्क करने की कोशिश करते हैं, उतना ही अधिक हम उन्हें देख और महसूस कर पाते हैं।

अपने आम निस्पादक (Filters) और सीमाओं के बिना, हम खुद को अस्वीकृत, संकट में या रोमांचित महसूस करना बंद कर देते हैं। हम पाते हैं कि हम अपनी आम सीमाओं से काफी बड़े हैं। वास्तविक्ता में, हम इतने बड़े हैं कि हम इस सब को अपने अंदर समा सकते हैं।

और आश्चर्यजनक सच है, जितना अधिक हम उदार बनते हैं, हमें भय उतना ही कम होता है। भय हमें वर्त्तमान से दूर रखने का बहुत ही बेहतरीन कार्य करता है; 'भविष्य में क्या हो सकता है' या 'अतीत में शायद जो हुआ था' उन विचारों से हमें भर कर।

मगर इस वर्तमान क्षण में भय कहीं देखने को नहीं मिलता। स्पष्ट देखने में कोई भय नहीं है। इसी क्षण में हम डर की मंत्रमुग्ध कर देने वाली पकड़ से मुक्त हैं।

भय से मुक्त रहने के लिये, हमें महज़ वर्त्तमान क्षण में रहने की आवश्यकता है। उस दशा में हम स्पष्ट रूप से देख सकते हैं।

गहन चिंतन के लिए प्रश्न: आप स्वयं को इस धारणा, कि सब कुछ अंदर समा लेने के लिए पर्याप्त है, से कैसे सम्बद्ध कर पाते हैं? क्या आप अपनी ज़िन्दगी से जुड़ी कोई ऐसी कहानी बांट सकते हैं जब आप पूर्णतः निष्कपटता के साक्षी बन सके हों? आपके स्पष्ट देखने के लिए बेधड़क समर्पण करने में क्या चीज़ सहायक है I

मार्गरेट व्हीटली एक अमरीकी लेखिका और प्रबंधन सलाहकार हैं जो संगठनात्मक व्यवहार का अध्ययन करती है। यह लेख उनकी पुस्तक 'परसीविअरेंस' (दृढ़ता) से उद्धरित है।

हिंदी अनुवादकर्ता: पूजा कश्यप
 

Margaret Wheatley is an American writer and management consultant who studies organizational behavior. This piece is excerpted from her book Perseverance.


Add Your Reflection

7 Past Reflections