Opening To Greater Life

Author
Thomas Berry
28 words, 6K views, 7 comments

Image of the Weekउच्च जीवन की ओर खुलना
-- थॉमस बेरी के द्वारा


नयी पीढ़ी को बताएं कि कुछ नया हो रहा है, एक नई दृष्टि, एक नई ऊर्जा, एक नई पवित्र कहानी एक युग के दूसरे युग में संक्रमण से अस्तित्व में आ रही है।

उन्हें बताएं कि इस समय के अंधेरे में, मानव चेतना की गहराई में एक विशाल परिवर्तन हो रहा है, जिससे आत्मा, पृथ्वी, ब्रह्मांड और पवित्रता की भावना की बहाली हो रही है ...

उन्हें बताएं कि अगर हमें एक व्यवहार्य भविष्य के लिए आवश्यक समायोजन करना है, तो हमें उनकी आंतरिक दृष्टि विकसित करनी चाहिए। हमारे अस्तित्व संबंधी प्रश्न अब होने चाहिए: हम पृथ्वी और ब्रह्मांड से कैसे सम्बद्ध हैं? हमारा सबसे बुनियादी मुद्दा यह है कि हम पृथ्वी से कैसे जुड़ते हैं।

और उन्हें बताएं कि वे रास्ते में महान साथियों से मिलेंगे, जिनमें वे भी शामिल हैं जो मिट्टी में रहते हैं, हवा में उड़ते हैं और समुद्र में तैरते हैं ...

उन्हें बड़ी विकासवादी प्रक्रिया में अपनी भूमिका की तलाश करने के लिए कहें: उन्हें बताएं कि मनुष्य हमेशा बनने की प्रक्रिया में हैं, हमेशा "उच्च जीवन के लिए खुले", अगर वे इसे देखना सीख सकते हैं। उन्हें बताएं कि सबसे बड़ी जरूरत उन आंतरिक प्रेरणाओं को पहचानने के लिए संवेदनशीलता विकसित करने की है जो किसी के अपने अस्तित्व की गहराई से निकलती हैं जहां पवित्र वास्तविकता निवास करती है ...

इन सबसे ऊपर, उन्हें प्राकृतिक दुनिया की सुंदरता और अजूबों के लिए अपनी सहज जागरूकता के माध्यम से एक अंतरंग उपस्थिति का अभ्यास करने के लिए कहें जो सभी जीवन की एकता को पहचानती है; उन्हें अपने चारों ओर सृष्टि के रहस्यों और चमत्कारों के बारे में जागरूक होने के लिए अपने पूरे दिन में ठहरने और क्षणों को विस्तरित करने के लिए कहें - एक गिलहरी की गति, एक पक्षी की आवाज़, एक पत्ते का स्वरुप, प्रकाश के बदलते स्वरुप, सूर्य, बारिश, तारे, भोर और सूर्यास्त। उन्हें बताएं कि सब चीज़ों और सब लोगों के बिना हम भी स्वयं नहीं हैं।

उन्हें महान मौसमों और जीवन के चक्रों को याद करने के लिए कहें। प्राकृतिक दुनिया के साथ घनिष्ठता के क्षणों में वे मानव-पृथ्वी संबंधों में पवित्रता की खोई हुई भावना को पुनः प्राप्त करेंगे। और वे पृथ्वी पर एक नई चेतना के विकास में भाग लेंगे जो मानव और प्राकृतिक दुनिया के बीच - कट्टरपंथी विभाजन में व्यक्त - हमारे समय के मानसिक निर्धारण को दूर कर सकती है। एक पारस्परिक रूप से बढ़ने वाला रिश्ता तब संभव हो जाएगा जब सभी चीजों की सहभागिता समझ में आ जाएगी।

____________________________________________________
मनन के लिए प्रश्न: 'उच्च जीवन की ओर खुलने' का आपके लिए क्या अर्थ है? क्या आप किसी ऐसे समय का अनुभव साझा कर सकते हैं जब आप मानव-पृथ्वी संबंधों में पवित्रता की भावना की बहाली के माध्यम से, पारस्परिक रूप से बढ़ाने वाले संबंध विकसित करने में सक्षम थे? सभी चीज़ों के साथ सहभागिता का अभ्यास करने में क्या बात आपकी मदद करती है? ____________________________________________________
 

Before his passing, when Thomas Berry was asked for words for future generations, above was his response. Quoted in Carolyn Toben's Recovering a Sense of the Sacred.


Add Your Reflection

7 Past Reflections