Who Is My Neighbor?

Author
Ivan Illich
23 words, 12K views, 7 comments

Image of the Weekमेरा पड़ोसी कौन है?
- इवान इलिच (२६ दिसंबर, २०१८)

करीब तीस साल पहले, मैंने तीसरी शताब्दी की शुरुआत से उन्नीसवीं शताब्दी के उन प्रवचनों का अध्ययन किया जो सामारिटन की कहानी से सम्बंधित थे, और मैंने पाया कि अधिकांश प्रचारक, जब वे उस कहानी पर टिप्पणी करते हैं, तो यह दिखाने के लिए कि हमें अपने पडोसी के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए, जबकि वास्तव में यह उसके विपरीत है जो यीशु, जो सामारिटन की कहानी बताते हैं, इंगित करना चाहते थे।

फरीसियों ने उससे पूछा, "मास्टर, गुरु, हमें बताएं कि हमारा पड़ोसी कौन है?" उन्होंने उनसे यह नहीं पूछा कि हमें अपने पड़ोसी के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए? उन्होंने उनसे साफ़- साफ यह प्रश्न पूछा: वह व्यक्ति कौन है जिसे आप पड़ोसी कहते हैं?

और उन्होंने एक कहानी के रूप में उनसे कहा, कि एक व्यक्ति जेरिको की ओर जा रहा था, उसका मुकाबला डाकुओं से हो गया, उन्होंने उसे मार-पीटकर, घायल छोड़ दिया। एक शिक्षक वहां से गुज़रता है, एक पुजारी वहां से गुज़रता है, उसे देखता है और चलता रहता है। और फिर एक बाहरी व्यक्ति आता है, जो कि पारंपरिक तौर से दुश्मन की तरह माना जाता है, वह उस घायल आदमी की ओर मुड़ता है, एक आंतरिक मोड़ की तरह, और उसे उठाता है, उसे अपनी बाँहों में ले लेता है और अपनी सराय में ले जाता है। तो वे उन्हें जवाब देते हैं, "मेरा पड़ोसी वह है जिसका चुनाव मैं करता हूँ, न कि वो जिसका चुनाव मुझे जवर्दस्ती करना पड़ता है।"

किसे मेरा पडोसी होना चाहिए, इसे वर्गीकृत करने का कोई तरीका नहीं है। [...] मास्टर ने उनको बताया कि आपका पड़ोसी कौन है, यह आपके जन्म से, आपकी स्थिति से, जो भाषा आप बोलते हैं, उस नृवंश द्वारा, जिसका असल में अर्थ है चलने का वो तरीका जो आपको सही लगने लगा है, इन सब से निर्धारित नहीं होता है, बल्कि आपके द्वारा निर्धारित होता है। आप सांस्कृतिक रूप से सीमा से बाहर रहने वाले दूसरे व्यक्ति की पहचान कर सकते हैं, जो भाषा से विदेशी है, जो - भाग्य से या बिलकुल संयोग से - कहीं आपके रास्ते में आ जाता है और जो सर्वोच्च रूप में सम्बद्धता पैदा करता है, जो कि सृष्टि द्वारा नहीं दी गयी है, बल्कि जिसे आपने बनाया है।

प्रतिबिंब के लिए मूल प्रश्न: आप इस धारणा से क्या समझते हैं कि आपका पड़ोसी वह है जिसे आप चुनते हैं, न कि वो जिसका चुनाव आपको ज़बरदस्ती करना पड़ता है? क्या आप कोई व्यक्तिगत अनुभव बाँट सकते हैं जब आपने किसी और व्यक्ति के साथ एक पवित्र रूप की संबंद्धता का निर्माण किया हो? आपको अपने अनुबंधन की सीमाओं से बाहर निकल कर सच्चे रूप में किसी के साथ सम्बद्धता बनाने में किस चीज़ से मदद मिलती है ?

इवान इलिच एक क्रोएशियेशी-ऑस्ट्रियाई दार्शनिक और रोमन कैथोलिक पादरी थे।
 

Ivan Ilich was a Croatian-Austrian philosopher and Roman Catholic priest. Excerpted from here. The photo is Mister Rogers and Francois Clemmons -- background story here.


Add Your Reflection

7 Past Reflections