The Gift Of Threshold Moments

Author
Sam Keen
26 words, 19K views, 8 comments

Image of the Week
सीमन्तक क्षणों का उपहार
- सैम कीन द्वारा (२० दिसंबर, २०१७)

थ्रश चिड़िया का गीत उन अनुभवों की श्रेणी के अंतर्गत आता है, जो हमें उस सीमा तक पहुंचाता है जहां ध्वनि चुप्पी में उतर जाती है, समय कालातीत हो जाता है, और ज्ञात दुनिया महान रहस्य से घिर जाती है।

इस श्रेणी में शामिल हैं एक मंदिर की घंटी की प्रतिवर्ती गूंज जो शून्य में विलीन हो जाती है; तिब्बती भिक्षुओं का पॉलीफोनिक जप, जो अंतहीन सांप्रदायिक संगीत में विलीन हो जाता है; बादलों की गड़गड़ाहट और बिजली की चमक के बीच होने वाला विद्युत अंतराल; वह भयानक शून्यता जब किसी मरने वाले व्यक्ति के प्रश्वास के बाद श्वास नहीं आता; वो गहरी साँस और गहरी शांति जो ध्यान करते समय आती है जब मन में अंततः बकबक बंद हो जाती है; वो कालातीत क्षण, सोने से पहले या जागने के बाद, जब हम एक सपनों की दुनिया में प्रवेश करते हैं जिसमें यह बिल्कुल उचित लगता है कि हम उड़ें, लिंग बदल लें, या साथ ही खुद भी रहें और अपने माता-पिता भी बन जाएं।

इन सीमन्तक क्षणों में, आत्मा मन के चेतोपागम (synapses) के बीच फिसल जाती है। वो सामान्य भ्रम तितर-बितर हो जाता है कि इस बेकार समय (कालक्रम) की अत्याचारी मार्च से परे कुछ भी नहीं है, और हमें अनंत काल की एक संक्षिप्त जानकारी हो जाती है, पवित्र समय (कैरोस) की जागरूकता। इन गर्भवती शून्य स्थानों में हमें अपनी समझ की सीमा का अहसास होता है। हमें एक अनोखी जानकारी मिलती है कि हमारे समय का अनुभव करने के तरीके और ये संसार हमारे सीमित दिमागों द्वारा बनाये तंत्रों, श्रेणियों और मानदंडों से ज्यादा कुछ नहीं हैं।

जैसे मोनार्क तितलियां कम ऊंचाई पर ही प्रवासन करने तक सीमित रहती हैं, हमारे पंख हमें बाह्य अंतरिक्ष के विशाल क्षेत्रों में नहीं ले जाएंगे।

अनजाने को अनुभव करने का उचित नाम रहस्यवाद नहीं है, बल्कि ज्ञान है। जब सॉक्रेट्स को बताया गया कि डेल्फी के ओरेकल ने कहा कि वह ग्रीस में सबसे बुद्धिमान व्यक्ति थे, तो उन्होंने उत्तर दिया कि इसका अर्थ केवल यह हो सकता है कि वो ये जानते थे कि वो क्या नहीं जानते। बुद्धि हमारी अज्ञानता के कुछ ज्ञान से आती है, और यह हमें सिखाती है कि हम एक विशाल रहस्य से घिरे प्रकाश के एक छोटे से चक्र के भीतर रहते हैं। परंपरा के अनुसार, उल्लू --- जो ज्ञान की देवी एथेना का प्रतीक --- अपने पंख केवल गोधूलि के आगमन के साथ फैलाता है । ज्ञान समझने की विरोधाभासी कला है।

कैलिफ़ोर्निया के कम घने जंगली इलाके में जहां मैं अब रहता हूँ, कोई वुड थ्रश चिड़िया नहीं हैं। लेकिन यहां ग्रेट हॉर्नड उल्लू बहुत अधिक हैं, और जब वे अपनी हौली, विचित्र आवाज़ निकालना शुरू करते हैं, तो मैं पूर्वकाल में पहुंच जाता हूँ, जब मैं सीमांत पर चुपचाप खड़ा होकर थ्रश चिड़िया के शाम की प्रार्थना के आमंत्रण को सुन रहा था, और मैंने आकाश के मूक संगीत की एक हल्की गूंज को सुना। समय के साथ, थ्रश चिड़िया के जादूई गीत ने मुझे धीरे-धीरे एक अज्ञेयवादी में बदल दिया है। अनजाना। चकित।

प्रतिबिंब के लिए मूल प्रश्न: एक सीमन्तक पल से आप क्या समझते हैं? क्या आप किसी सीमन्तक पल का कोई व्यक्तिगत अनुभव बाँट सकते हैं? आपको जिस प्रकाश के छोटे दायरे में रहते हैं, उसके चारों ओर फैले विशाल रहस्य को खोलने में किस चीज़ से मदद मिलती है?

सैम कीन की 'साइटिंगस’' से।
 

From 'Sightings' by Sam Keen.


Add Your Reflection

8 Past Reflections