Love is the Source of Fearlessness

Author
Margaret Wheatley
31 words, 14K views, 11 comments

Image of the Weekप्यार निर्भयता का स्रोत है
-- मार्गरेट वीटली ( ३ जून, २०१५)

कुछ जेल की सलाखें जो हमने अपने आप के लिए खडी कर दी हैं, वो हैं अपनी नौकरी खो जाने का डर। हमें लोग पसंद नहीं करेंगे, इस बात का डर। हमारी लोगों द्वारा स्वीकृति की ज़रुरत। हमारी बिना कुछ दाव पर लगाए महत्वपूर्ण बदलाव लाने की इच्छा। तो, हम अभी भी इस जीवन के सारे आराम चाहते हैं और बाहर कदम रखना और “न” कह पाना या यह कह पाना कि “तुम मेरे साथ ऐसा नहीं कर सकते”, एक बड़ा जोखिम मालूम होता है। यह बड़ा जोखिम इसलिए लगता है क्योंकि मेरे ख्याल से हम असल में जिस कैद में बंद हैं वो है हमारी समृद्धि, और अपनी समृद्धि पर लगा हमारा ध्यान या भौतिक वस्तुओं के लिए हमारा मोह। मैं आपको सोचने के कुछ देती हूँ: ऐसा क्या है जो आपको निडरता से काम लेने से रोकता है? […]

नागरिक अधिकार आंदोलन में सक्रिय, बहुत अच्छी गायिका, “स्वीट हनी इन द रॉक” की सह-संस्थापिका, बर्नीस जॉनसन रीगन, आज सफल जीवन और कैरियर की सुरक्षा और आराम के बीच नागरिक अधिकार आंदोलन के उन दिनों की कहानी सुनाती हैं। वो कहती हैं, “उन दिनों में, हम लोग बाहर सड़कों पर पहुंच जाते थे और विरोध करते थे। वो लोग हम पर गोलियां चलाते, और किसी न किसी को मार डालते । और फिर हम उनके अंतिम संस्कार के लिए जाते, रोते और शोक मनाते। और फिर अगले दिन, हम वापिस सड़कों पर पहुँच जाते और और कुछ और विरोध करते।” और वह बोलीं, “अब मैं जब उन दिनों के बारे में सोचती हूँ तो मुझे लगता है कि हम पागल थे कि हमने ऐसा सब किया।” लेकिन फिर वो बोलीं, “ पर, जब आप वो कर रहे होते हैं जो आपको करना चाहिए, तो आपको मारने का काम किसी और का है।” […]

क्या हम आशा और भय से परे अपना काम कर सकते हैं? क्या हम ऐसा रास्ता ढूँढ सकते हैं जिससे हम प्रेरित रह सकें, ऊर्जावान रह सकें, खुश रह सकें; क्या हम ऐसा रास्ता खोज सकते हैं जिससे हम जो हम कर रहे हैं उसमें हम आनंद ले सकें और जो परिणामों पर आधारित न हो, जो कोई खास नतीजा देखने की ज़रूरत पर निर्भर न हो? क्या ऐसा रास्ता उपलब्ध भी है?

अगर ऐसा हो सके कि हम अपने काम को सहजता से उपहार की तरह और इतने प्यार के साथ अर्पित कर सकें, कि वह असल में निर्भयता का स्रोत बन जाए? हमें यह ज़रूरत नहीं है कि उसे किसी खास तरीके से स्वीकार किया जाए। हमें कोई निश्चित परिणाम पाने की ज़रूरत नहीं है। हमें यह भी ज़रूरी नहीं है कि वह कोई एक चीज़ हो। जिस तरीके से हम देते हैं, उस तरह से काम हमें परिवर्तित कर देता है। उस तरीके में खासियत है जिससे हम अपने काम को उपहार की तरह उन लोगों को अर्पित कर देते हैं जिन्हें हम प्यार करते हैं, जिनके लिए हमारे दिल में खास जगह है, जिन मुद्दों की हम परवाह करते हैं। जिस तरीके से हम अपने काम को अर्पित करते हैं, उसमें हम निर्भयता पाते हैं। मुझे लगता है, आशा और भय से परे, प्रेम की संभावना है।

विचार के लिए कुछ मूल प्रश्न: प्यार के निर्भयता का स्रोत होने से आप क्या समझते हैं? क्या आप अपना कोई व्यक्तिगत अनुभव बांटना चाहेंगे जब आप अपने काम को निर्भयता से उपहार में परिवर्तित करने में समर्थ हो सके हों? हम जिस कैद में रहते हैं उसके बारे में जागरूकता विकसित करने के लिए हमें क्या करना चाहिए?

मार्गरेट वीटली छह पुस्तकों की लेखिका हैं और एक प्रबंधन सलाहकार है जो संगठनात्मक व्यवहार का अध्ययन कर रही हैं। वो अपने काम में सोच प्रणालियों, परिवर्तन, अराजकता सिद्धांत, नेतृत्व और शिक्षण संस्था के सिद्धांतों का इस्तेमाल करती हैं: खासतौर पर स्वयं को व्यवस्थित करने की क्षमता। ऊपर दिया उद्धरण डेली गुड.ऑर्ग के लेख "8 निडर प्रश्न" से लिया गया है।
 

Margaret Wheatley is an author of six books and a management consultant who studies organizational behavior. Her approach includes systems thinking, theories of change, chaos theory, leadership and the learning organization: particularly its capacity to self-organize. Excerpt above is from "8 Fearless Questions" on DailyGood.org.


Add Your Reflection

11 Past Reflections